One Response

Page 1 of 1
  1. avatar
    घिंघारु November 11, 2009 at 12:53 PM |

    कालाढूंगी काण्ड की जांच सी०बी०आई० से भी होनी चाहिये और न्यायिक जांच सुप्रीम कोर्ट के किसी अवकाश प्राप्त जज के द्वारा भी। अगर यह दो जांच हो जांये तो जनता के हितैषी साबित करने पर तुले उत्तराखण्ड के आज के कई नेता मुंह दिखाने के काबिल भी न रह पायेंगे।

    Reply

Leave a Reply

%d bloggers like this: