नवीन जोशी

उत्तराखण्ड में वैकल्पिक राजनीति के लिए एक विमर्श

{हिन्दुस्तान, लखनऊ के सम्पादक पद से सेवानिवृत्त, ‘दावानल’ जैसे उपन्यास के यशस्वी लेखक और आन्दोलनकारी नवीन जोशी की यह टिप्पणी उन सब पाठकों के लिये हैं जो उत्तराखंड के हालातों से बेजार हैं, मगर अभी उम्मीदें नहीं छोड़ बैठे हैं। नवीन का और उनके साथ हम सबका मानना है कि उत्तराखंड की बेहतरी के लिये […]